Thursday, December 8, 2022
HomeWorld Newsहवाई जहाज से सफर करने के खिलाफ जर्मनी में प्रदर्शन: क्लाइमेट एक्टिविस्ट...

हवाई जहाज से सफर करने के खिलाफ जर्मनी में प्रदर्शन: क्लाइमेट एक्टिविस्ट विरोध में रनवे पर बैठे और साइकिल चलाई, कहा- दुनिया के 80 फीसदी लोग कभी प्लेन में नहीं बैठे


बर्लिन10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जर्मनी के ब्रांडेनबर्ग एयरपोर्ट पर गुरूवार को क्लाइमेट एक्टिविस्ट ग्रुप ने अनोखा प्रदर्शन किया। इसके चलते रनवे पर शाम तक लैंडिंग और टेकऑफ के सारे ऑपरेशन बंद रखने पड़े। दरअसल क्लाइमेट चेंज की ओर ध्यान खींचने के लिए कुछ एक्टिविस्ट एयरपोर्ट के रनवे वाले इलाके में घुस गए।

उन्होंने हवाई जहाजों के लिए बने ट्रैक पर साइकिल चलाई औरबैठ गए। इन प्रदर्शनकारियों में 70 साल के एक बुजुर्ग भी शामिल हैं। एयरपोर्ट पर प्रदर्शन करने के लिए घुसे इन लोगों की मांग थी की ट्रैवल करने के लिए हवाई जहाजों का इस्तेमाल बंद हो।

प्लेन से ट्रैवल करने के खिलाफ ट्रैक पर बैठे एक्टिविस्ट का मानना है कि इससे बहुत ज्यादा मात्रा में ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन होता है।

प्लेन से ट्रैवल करने के खिलाफ ट्रैक पर बैठे एक्टिविस्ट का मानना है कि इससे बहुत ज्यादा मात्रा में ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन होता है।

दुनिया के 80 फीसदी लोग कभी प्लेन में नहीं बैठे

वीडियो में साफ तौर पर देखा जा रहा है कि कुछ लोग फेंसिंग को तोड़कर रनवे वाले इलाके में घुस रहे हैं। वहां बैठे हैं और साइकिल भी चला रहे हैं। रनवे पर हुए इस प्रदर्शन के पीछे जर्मनी के क्लाइमेट चेंज एक्टिविस्ट ग्रुप ने अपना बयान दिया है। संस्था ने कहा, दुनिया की लगभग 80 फीसदी आबादी ने कभी हवाई जहाज में सफर नहीं किया है। दुनिया के केवल कुछ फीसदी लोग ही इसका इस्तेमाल करते हैं। जो सबसे ज्यादा ग्रीन हाउस गैस एमिशन के लिए जिम्मेदार है।

ऑयल पेंटिंग्स के खिलाफ प्रदर्शन में लंदन में प्रदर्शनकारियों ने विन्सेंट वैन गो की पेंटिंग पर टमैटो सूप फेंक दिया था।

ऑयल पेंटिंग्स के खिलाफ प्रदर्शन में लंदन में प्रदर्शनकारियों ने विन्सेंट वैन गो की पेंटिंग पर टमैटो सूप फेंक दिया था।

600 करोड़ की पेंटिंग पर भी फेंका था टमैटो सूप

पूरे युरोप में क्लाइमेट चेंज के कारण लोगों को कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इसके चलते वहां लगातार लोग तरह-तरह से प्रदर्शन कर रहे हैं। जर्मनी से पहले लंदन में भी इनके प्रदर्शन का अजीब सा मामला सामने आया था। लंदन की नेशनल गैलरी में दो प्रदर्शनकारियों ने विन्सेंट वैन गो की पेंटिंग पर टमैटो सूप फेंक दिया। सनफ्लावर नाम की इस पेंटिंग की कीमत 600 करोड़ रुपए है। 20 वर्षीय एना हॉलैंड और 21 वर्षीय फोबे प्लमर ने क्लाइमेट चेंज के विरोध में ऐसा किया।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments