Tuesday, November 29, 2022
HomeWorld Newsरफ्तार वाली सड़कों पर पदयात्रियों को 5.5 गुना खतरा: इसे घटाने के...

रफ्तार वाली सड़कों पर पदयात्रियों को 5.5 गुना खतरा: इसे घटाने के लिए 32 किमी/घंटा की स्पीड लिमिट तय कर रहे देश


लंदन29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शहरों में होने वाली असमय मौतों की एक बड़ी वजह सड़क हादसे हैं। इन मौतों में कमी लाने के लिए ब्रिटेन समेत यूरोप के कई देश अपने शहरों में स्पीड लिमिट 32 किमी/घंटा तय कर रहे हैं। वाहनों की रफ्तार घटाने का असर जानने के लिए उत्तरी आयरलैंड की राजधानी बेलफास्ट में क्वीन यूनिवर्सिटी ने एक स्टडी की।

इस स्टडी में 76 सड़कों पर गतिसीमा लागू करने से पहले, लागू करने के एक साल बाद और तीन साल बाद की सड़क दुर्घटनाओं, मौतों, वाहनों की संख्या और गति के आंकड़ों का एनालिसिस किया गया। इन आकंड़ों की उन शहरों के आंकड़ों से तुलना की गई, जहां गतिसीमा लागू नहीं थी या 32 किमी/घंटा से ज्यादा थी।

गतिसीमा लागू न होने से दुर्घटनाओं में कमी आई
नतीजों में सामने आया कि वाहनों की टक्कर में तीन साल बाद 15% की कमी देखी गई। दुर्घटना में हताहत लोगों की संख्या में एक साल बाद 16% और तीन साल बाद 22% की कमी दर्ज की गई। ट्रैफिक की औसत गति एक साल बाद 0.3 किमी और तीन साल बाद 1.4 किमी कम हो गई। हालांकि शोधकर्ताओं के अनुसार संख्या के हिसाब से ये कमी उम्मीद से कम है।

सुबह होने वाली वाहनों की भीड़ में सबसे ज्यादा सुधार देखा गया। 32 से 48 किमी/घंटा की गतिसीमा वाली सड़कों की तुलना में 48 से 64 किमी/घंटा की गतिसीमा वाली सड़कों पर पैदल यात्रियों के लिए खतरा 3.5 से 5.5 गुना तक बढ़ गया। हादसों पर काबू पाने के लिए 32 किमी/घंटा की गतिसीमा के अलावा ड्राइवर ट्रेनिंग, सीसीटीवी कैमरे, सामाजिक जागरुकता, स्पीड वॉच, पुलिस कार्रवाई भी जरूरी है।

न्यूयॉर्क में हादसे रोकने के लिए विजन जीरो प्लान
अमेरिका के न्यूयॉर्क में हादसों में होने वाली मौतों, गंभीर चोटों को रोकने के लिए विजन जीरो प्लान लागू किया गया था। इसके तहत शहर में वाहनों के लिए 40 किमी/घंटा की गतिसीमा तय की है। पहले यह 48 किमी/घंटा थी।

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments