Wednesday, November 30, 2022
HomeWorld Newsईरान में फायरिंग से 5 की मौत: हमले में महिला और एक...

ईरान में फायरिंग से 5 की मौत: हमले में महिला और एक लड़की भी मारी गई, पुलिसकर्मी सहित 10 घायल


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • ईरान समाचार; ईरान साउथवेस्ट सिटी इजिह मार्केट फायरिंग; बंदूकधारियों का हमला बाजार; हमले में महिला और एक लड़की की भी मौत; पुलिसकर्मी समेत 10 घायल

तेहरान36 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ईरान के दक्षिण-पश्चिमी शहर इजीह में बुधवार को कुछ हमलावरों ने फायरिंग कर दी। हमले में 5 लोगों की मौत हो गई। लोकल न्यूज एजेंसी IRNA के मुताबिक फायरिंग में पुलिसकर्मी सहित 10 लोग घायल हो गए। शहर के खुजेस्तान प्रांत के डिप्टी गवर्नर वलीउल्लाह हयाती ने बताया कि मारे गए लोगों में एक लड़की और एक महिला भी शामिल है।

इससे पहले 26 अक्टूबर को ईरान के शिराज में बुधवार को एक धार्मिक स्थल पर गोलीबारी हुई थी। हमले में 15 लोगों की मौत हो गई। 40 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। घटना शिया समुदाय के पवित्र स्थल शाह चेराग पर हुई। तीन हथियारबंद लोगों ने यहां गोलीबारी की थी।

यह फोटो 26 अक्टूबर को शिराज में मस्जिद में हुए आतंकी हमले का है। मस्जिद के बाहर लगे CCTV के इस फुटेज में हमलावर को देखा जा सकता है।

यह फोटो 26 अक्टूबर को शिराज में मस्जिद में हुए आतंकी हमले का है। मस्जिद के बाहर लगे CCTV के इस फुटेज में हमलावर को देखा जा सकता है।

ईरान में बीते दिन भी हुआ प्रदर्शन
लोकल मीडिया के मुताबिक दर्जनों प्रदर्शनकारियों बुधवार देर रात इजेह के अलग-अलग हिस्सों में इकट्ठा हए और सरकार विरोधी नारे लगाए। इसी दौरान पुलिस पर भी पथराव किया गया। जिसके बाद उन्हें तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए। स्टेट मीडिया ने यह भी बताया कि इस दौरान किसी ने शिया धार्मिक मदरसे में आग लगा दी। इस दौरान कुछ विरोध प्रदर्शनों में हिंसक झड़पें भी हुई। हालांकि, पुलिस ने हिंसक झड़पों पर पर काबू पा लिया।

ईरान में हिजाब पहनना मैंडेटरी है। महिलाएं इसका विरोध कर रही हैं।

ईरान में हिजाब पहनना मैंडेटरी है। महिलाएं इसका विरोध कर रही हैं।

पुलिस ने तेहरान के एक मेट्रो स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं
ईरान में बुधवार को एक बार फिर तनाव बढ़ गया। पुलिस ने तेहरान के एक मेट्रो स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाईं। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने 22 साल की महसा अमिनी की मौत के कारण इकट्ठा हुए प्रदर्शनकारियों पर हमला किया। उन्होंने उन महिलाओं की भी पिटाई की, जिन्होंने सार्वजनिक रूप से हिजाब नहीं पहना था।

घटना का वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में दिखाया गया था कि मेट्रो स्टेशन पर लोगों की भीड़ थी, जिनमें से कुछ अमिनी की मौत का विरोध कर रहे थे। पुलिस ने उन्हें लाठियों-डंडो से पीटा।

महसा अमिनी की मौत का 61वां दिन
मस्जिद पर हमला ऐसे समय हुआ है जब पूरी ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन हो रहे हैं। ये प्रदर्शन 16 सितंबर को शुरू हुए थे। इसी दिन 22 साल की महसा अमिनी की पुलिस कस्टडी में मौत हो गई थी। महसा को पुलिस ने हिजाब नहीं पहनने पर गिरफ्तार किया था।

ईरान में हिंसा से जुड़ी कुछ और खबरों को नीचे पढ़ें…

ईरान में पहली बार हिजाब विरोधी प्रदर्शनकारी को होगी फांसी

ईरान में 16 सितंबर को शुरू हुआ हिजाब विरोधी प्रदर्शन अब भी जारी है। इस बीच मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि पहली बार विरोध प्रदर्शन में शामिल एक शख्स को फांसी की सजा सुनाई गई है। इसके अलावा 5 लोगों को 10 साल की सजा सुनाई गई है। पूरी खबर यहां पढ़ें…

खबरें और भी हैं…



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments